loading...

बैडरूम में उन पलो ज्यादा देर तक एंज्वॉय करने के लिए रखे 7 बातो का ध्यान



आपको लगता है कि आप अपनी पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाए। हो सकता है ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाने की वजह से इस तरह की बातें खुद आपके जहन में आती हों। इसे लेकर बहुत ज्यादा तनाव लेने की जरूरत नहीं है। बस कुछ बाते हैं, जिनका पालन कर स्वस्थ्य सेक्स का अनुभव प्राप्त किया जा सकता है। 



1. फोर प्लेसेक्स के अच्छे अनुभव के लिए आप फोरप्ले का सहारा लें तो बेहतर होगा। इसकी शुरुआत बातों से की जा सकती है। बात करते-करते पार्टनर के गाल पर हाथ रख उसे चुंबन लें। संभोग को लंबे समय तक खींचने के लिए सबसे पहला काम परिस्थितियों को अनुकूल बनाएं। 

2. यदि आप और आपके पार्टनर के बीच किसी प्रकार का तनाव है, आप दोनों में से किसी एक का भी मन शांत नहीं है और या आपके आस-पास का वातावरण आपकी शांति भंग कर रहा है तो आप स्वस्थ्य सेक्स नहीं कर सकते।

3. यदि आपको लगने लगे कि आपकी ऊर्जा समय से पहले समाप्त होने वाली है, तो थोडी देर रुक जाएं। इससे हो सकता है।

4. पोजीशन बदलना अच्छा होता है। यदि आप बैठकर संभोग कर रहे हैं, तो लेट जाएं। यदि लेटकर तो बैठ जाएं, आदि कुछ भी कर पोजीशन बदल लें। 

5. शराब मत पियें संभोग से पहले शराब कभी मत पिएं। मदिरापान से आपको जल्द नींद आ सकती है। संभोग पूरा करने से पहले आपको नींद आने से आपकी पार्टनर नारज हो सकती है। 

6.  यही नहीं यदि आपके होठ सूख गए हैं तो पानी जरूर पिएं। वैसे भी सेक्स के बीच में एक-दो बार पानी पीने से ऊर्जा बरकरार रहती है। 

7. एक और खास बात ये है कि जरूरी होने पर डॉक्टर की सलाह भी ले लेनी चाहिए इससे आपके संबंधों में कोई परेशानी भी नहीं होती है और साथ ही जीवन जीने का पूरा आंनद भी ले सकते हैं।

आखिर क्यों उस रात दूध पिलाने की है परंपरा ?

शादी करना एक बड़ी ही शुभ घटना मानी जाती है, जिसमें दो आत्‍माओं का मिलन होता है। शादी की पहली रात को सुहागरात बोलते हैं, जिसमें पति पत्‍नी दोनों एक हो जाते हैं। शादी की पहली रात यानी सुहागरात की इस रात को यादगार बनाने के लिये दुल्‍हे के परिवार वाले दुल्‍हन को दूध और केसर से भरा गिलास दुल्‍हे को देने के लिये कहते हैं। दरअसल, हमारे भारत देश में शादी की पहली रात से जुड़ी एक परंपरा है। आखिर क्यों नई नवेली दूल्हन शादी की पहली रात को अपने पति को दूध का गिलास क्यों देती है। जानिए....





सेक्स की इच्छा को बढ़ाता है दूध : जैसा हमने बताया की शादी की पहली रात को दूल्हे को दिए जाने वाले खास दूध में काली मिर्च से लेकर बादाम तक मिले हुए होते हैं। लेकिन जब इन सब चीजों के साथ दूध को अच्छे से उबाला जाता है तो इनमे से कुछ ऐसे तत्व निकलते हैं, जो सेक्स की इच्छा को बढ़ाते हैं। इसके साथ ही इसकी मदद से पुरूष बेहतर ऑर्गेन्ज्म भी हासिल कर पाते है। साथ ही रोज इस तरह का दूध पीने से लिबीबो, स्पर्म काउंट और मोटिलिटी में भी इजाफा होता है।

 इम्‍यूनिटी और पाचन बढ़ाए : आयुर्वेद के अनुसार दूध शरीर के प्रजनन ऊतकों को ऊर्जा देता है। साथ ही दूध दिमाग तेज बनाता है, शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाता है और पाचन क्रिया दुरुस्‍त रखता है और शरीर दृारा शोषित हो जाता है जिससे रात को आप अच्‍छा परफार्म कर सकें।

नजदीकी बढ़ाता है : बता दें कि जब दूल्हन अपने जीवन साथी, अपने पति को अपने मेंहदी लगे हाथों से गर्म दूध का गिलास पकड़ाती है तो उनके बीच नजदीकीयों की शुरूआत उसी पल से हो जाती है। ऐसे में ये नजदीकी तब और ज्यादा बढ़ जाती है जब इस दूध को दोनों मिलकर पीते हैं। इससे दोनों के बीच की घबराहट और हिचकिचाहट भी कम होती है साथ ही साथ रिश्तों की गर्माहट भी महसूस होने लगती है।

रिलेक्स और खुश करता है : अब वक्त बदल गया है आजकल शादी से पहले लड़का लड़की आपस में मिल लेते हैं। लेकिन पहले ज्यादातर ऐसा होता था कि दूल्हा और दूल्हन शादी से पहले एक दूसरे से मिले नहीं होते थे। इस वजह से शादी की पहली रात दोनो काफी नर्वस होते था। बताया जाता है की इस दूध को पीने से दूल्हे की नर्वसनेस खत्म हो जाती है और उसमें जोश भी आता है। इसके साथ ही इस दूध में मिले केसर की खुशबू से वो हार्मोन्स अधिक श्रावित होने लगते है जिससे खुशी महसूस होती है। कुल मिलाकर ये खास दूध दूल्हे का मूड को काफी अच्छा कर देता है।

जोश और एनर्जी देता है : जैसा कि आज सब जानते होंगे की हमारे देश में होने वाली शादियों के रीति-रिवाज कितने थकाने वाले होते हैं। दूल्हा बेचारा दो-तीन दिन की रस्मों से इतना थक जाता है की उसे सुहागरात के लिए थोड़े जोश और एनर्जी की जरूरत होती है। ऐसे में चीनी मिले इस स्पेशल दूध से उसमे जोश और एनर्जी आ जाती है।


OMG - शादी से पहले युवतियां इस बात को लेकर सबसे ज्यादा उत्साहित रहती हैं

अब तक ऐसा माना जाता है कि भारतीय युवतियां शादी से पहले शॉपिंग को लेकर काफी उत्साह में रहती हैं, लेकिन इस मिथक को एक ताजा स्टडी ने तोड़ दिया है। स्टडी के मुताबिक, अब युवतियां शादी से पहले सेक्सी अंतर्वस्त्र को लेकर सबसे ज्यादा उत्साहित रहने लगी हैं। 



स्टडी में शामिल महिलाओं ने बताया कि सेक्सी अंतर्वस्त्र को पहनकर अपने पार्टनर के सामने जाने में उन्हें ज्यादा बेहतर लगता है। ज्यादातर नई नवेली दुल्हनों ने बताया कि सेक्सी अंतर्वस्त्र देखकर पति के साथ बिताए पल ज्यादा खास हो जाते हैं। 

इस स्टडी के मुताबिक, युवतियां अब शादी की पहली रात में पति से मिलने वाले खास तोहफों में सेक्सी अंतर्वस्त्र को पाकर ज्यादा उत्साहित महसूस करती हैं। शादी से पहले होने वाली बैचलर्स पार्टी में भी सेक्सी अंतर्वस्त्र को युवतियों की ओर से पहली पसंद बताया गया है।

सेक्सी अंतर्वस्त्र की चाहत के पीछे एक वजह ऑनलाइन शॉपिंग को भी बताया जाता है। इसकी मदद से युवतियां शादी से पहले अपने पसंद के अंतर्वस्त्र खरीदना पसंद करती हैं।


पालतू जानवरों की वजह से पड़ता है अंतरंग संबंधों में ऐसा प्रभाव




कई शोध यह साबित कर चुके हैं कि घर में पालतू जानवर के रहने से इम्यूनिटी में इजाफा होता है लेकिन हाल ही में हुए एक शोध में कहा गया है कि पालतू जानवरों की वजह से अंतरंग संबंधों पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ये सेक्स अपील को बढ़ाने में मददगार होते हैं। अगर आपके घर में कोई छोटा पपी है या फिर आपने बिल्ली पाल रखी है तो खुद ब खुद आपमें एक बदलाव आ जाएगा। जिन घरों में पालतू जानवर होते हैं, देखने में आया है कि वहां के लोग एक-दूसरे के प्रति ज्यादा केयरिंग होते हैं।






इस अध्ययन के मुताबिक, विशेषज्ञों ने कई ऐसे जोड़ों पर शोध किया जिनके पास पालतू जानवर थे। हालांकि इस अध्ययन में ज्यादातर महिलाएं ही थीं। इनमें से ज्यादतर के पास डॉगी थे जबकि कुछ के पास बिल्ल‍ियां भी थीं। नतीजे प्राप्त करने के लिए प्रतिभागियों से तरह-तरह के सवाल किए गए और उनके जवाबों के आधार पर ये पाया गया कि घर में एक पालतू जानवर होने से अंतरंग संबंधों पर सकारात्मक असर पड़ता है।

कई डेटिंग प्रोफाइल्स ऐसे हैं जहां लोगों ने अपने पालतू जानवर के साथ अपनी फोटो लगा रखी है और उनका मानना है कि ऐसी तस्वीर से लोग उनकी ओर ज्यादा आकर्षित होते हैं। एक ओर जहां पुरुषों को घर-परिवार और घरवालों का देखभाल करने वाली पार्टनर की ख्वाहिश होती है वहीं महिलाओं को ऐसे पुरुष पसंद आते हैं जो उनको पैंपर करें। ऐसे में पालतू जानवर के साथ वक्त बिताने वालों के प्रति सकारात्मक सोच बनती है और शायद यही वजह है कि रिश्ते भी मधुर बनते हैं।

ब्रेकिंग : दलितों की देवी बनने वाली मायावती ने किया बाबा साहिब अम्बेडकर का घोर अपमान !!

ख़ुद को दलितों की देवी कहने वाली बसपा प्रमुख मायावती ने बेहद ग़लत काम किया है। उनको दलितों के असली मसीहा बाबा साहिब का सम्मान करना भी सही नहीं लगा और उन्होंने जान बूझकर उनका अपमान किया ।
एक निजी वेबसाईट की ख़बर के अनुसार मायावती एक बार फिर से विवादों में घिरती नजर आ रही है। बात ये है कि आज बाबा साहब की 61वीं पुण्यथिति पर मायावती ने लखनऊ में स्थित अम्बेडकर स्मारक जाकर माननीय बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया ।
पर बेहद अफ़सोस की बात ये कि उन्होंने माल्यार्पण के दौरान सेंडिल पहन रखी थी। उन्होंने अपनी सैंडिल उत्तरना भी ज़रूरी नहीं लगा और मायावती ने अनादर करते हुए सेंडिल पहनकर ही पूजनीय बाबा साहब को माल्यार्पण किया और श्रद्धांजलि दी।
मौक़े पर ली गयी तस्वीर में उनके साथ बीएसपी के कद्दावर मुस्लिम नेता और राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी भी हैं और उन्होंने भी जूते उतरना ठीक नहीं समझा। वैसे भी इनके जैसे कट्टरपंथी मुस्लिमों की तो ये आदत है कि वे जान बूझकर दूसरों का अपमान करते हैं।
लेकिन मायावती को तो सोचना चाहिए ही था। ये फोटो अब सोशल मीडिया में वायरल हो गया है। आपको बता दें बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमों मायावती ने मंगलवार 6 दिसम्बर को बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर की 61वीं पुण्यतिथि पर लखनऊ स्थित अम्बेडकर स्मारक में कार्यक्रम का आयोजन किया था । आयोजन तो कर लिया पर साथ साथ अपमान भी कर दिया ।

संभोग के दौरान इन बातों से डरती हैं महिलाएं


कहा गया है कि महिलाओं के लिए सबसे कुछ खास है तो वो है सेक्स। इसके बिना वो मुर्झाए फूल की तरह हो जाती हैं। लेकिन आखिर ऐसा क्या है कि महिलाएं कभी-कभी सेक्स से डरती भी हैं। इस डर से बचना जरूरी है। अगर डर होगा तो फिर सेक्स में मजा नहीं होगा। देखा गया है कि डर की वजह से अनेकों महिलाओं की सेक्स लाइफ बोरिंग हो जाती है। कई तो इससे बचना भी चाहती हैं और इसके लिए तरह-तरह के बहाने बनाती हैं।



-पुरुषों के लिए शारीरिक संतुष्टि ही काफी
सेक्स जहां पुरुषों के लिए अपनी अजीबो-गरीब फैंटेसी को पूरा करने का साधन है, वहीं औरतों के लिए यह रिलेशन काफी इमोशनल होता है। सेक्स के दौरान महिलाएं अपने आप को पूरी तरह से समर्पित कर देती हैं, लेकिन अक्सर पुरुष सेक्स संबंधों के दौरान भावनाओं में नहीं बहते। उनके लिए महज शारीरिक संतुष्टि ही काफी होती है।

-प्रेग्नेंसी का डर
सेक्स करते हुए महिलाओं के लिए सबसे बड़ा डर प्रेग्नेंसी का होता है। अक्सर पुरुष साथी कंडोम का प्रयोग नहीं करना चाहते। दूसरे, कई महिलाएं भी कंडोम के साथ सेक्स में वो आनंद प्राप्त नहीं कर पाती। कई बार सेक्स संबंध इतने अचानक बन जाते हैं कि कुछ सोचने का मौका नहीं मिलता। प्रेग्नेंसी का डर सेक्स के बाद महिलाओं की चिंता का सबसे बड़ा कारण होता है।

 -पुरुषों का स्वार्थी रवैया
पुरुषों को महिलाओं की इच्छा समझना चाहिए, पोर्न की तरह व्यवहार न करें। प्राय: पुरुष सेक्स के दौरान महिलाओं की इच्छाओं और उनकी भावनाओं का ख्याल नहीं करते। वे सिर्फ अपनी संतुष्टि से मतलब रखते हैं। यह एक स्वार्थी रवैया है। महिलाएं संवेदनशील व्यवहार से संतुष्ट होती हैं, पर पुरुष उनके साथ कुछ इस तरह सेक्स करना चाहते हैं मानो किसी पोर्न स्टार के साथ सेक्स कर रहे हैं। 

-पीरियड्स में सेक्स
यह महिलाओं के डर का बहुत बड़ा कारण है। सेक्स मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं में सेक्स की इच्छा काफी बढ़ जाती है, पर उन्हें लगता है कि इस अवस्था में अगर सेक्स किया तो पता नहीं इससे क्या समस्या पैदा हो जाए। दूसरे, पीरियड्स के दौरान पुरुष भी महिलाओं के साथ सेक्स करने में रुचि नहीं लेते। पीरियड में सेक्स नहीं करना चाहिए, यह एक गलत धारणा है। इस दौरान सेक्स करने से कुछ भी नहीं होता। इसलिए महिलाओं को इस डर से मुक्त हो जाना चाहिए । 

OMG! बीच सड़क पर जब महिला ने दांत से काटा पुरुष का गुप्तांग

बेनिन शहर में एक छोटी सी सड़क दुर्घटना के बाद हुए झगड़ने ने इतना विकराल रूप ले लिया कि एक व्यक्त‍ि की मौत हो गई। बड़ा ही अजीब मामला सामने आया है , यहाँ आदमी की मौत किसी चीज़ के प्रहार करने, गला दबाने, या गोली चलाने से नहीं, बल्कि लिंग को दांत से काटने से हुई।
बलात्कार से कम नहीं टू फिंगर टेस्ट, जानिए क्या होता है टू फिंगर टेस्ट
क्या है मामला..
1. बेनिन के इलाके में एक जीप और एक कार में टक्कर हो गई।

2. कार की टक्कर के तुरंत बाद उसमें सवार महिला का जीव में सवार पुरुष से कहा-सुनी हो गई।

3. देखते ही देखते दोनों के बीच बात हाथापायी तक उतर आयी।

4. मामला इतना बढ़ गया कि महिला झुकी और उस व्यक्त‍ि की पैंट के ऊपर से उसके लिंग को तेज़ी से काट लिया। 

5. इसी के तुरंत बाद महिला वहां से फरार हो गई।

6. इस हमले के बाद जीव ड्राइवर वहीं पर गिर पड़ा।

7. स्थानीय लोग उसे बेनिन यूनिवर्सिटी के अस्पताल में ले गये, जहां पर उसे मृत घोष‍ित कर दिया गया।

8. पुलिस महिला की धरकपड़ के लिये तलाशी कर रही है।

9. ईडो स्टेट पुलिस के पीआरओ डीएसपी जोसद्य एडोइगियावर ने कहा कि मामले की जांच जारी है।

मुस्लिम ने ईसाई महिला को क्लास में लगाए ताबड़तोड़ थप्पड़ कारण जानना चाहेंगे आप ?

मुस्लिम ने ईसाई महिला को क्लास में लगाए ताबड़तोड़ थप्पड़ कारण जानना चाहेंगे आप ?
मुस्लिम लोगों को क्या कहा जाए पूरी दुनिया में सभ्य दिखने वाले हों या आतंकवादी , व्यवहार सबका ही एक है हिंसा के सिवा कोई किसी दूसरी भाषा में बात ही नहीं करता । मानवता नाम की जैसे कोई चीज़ नहीं है ।
इस घटना के बारे में बात करें तो ये एक क्लास रूम की घटना है , मुस्लिम आदमी को उसकी बेटी ने बताया कि क्लास में ईश निंदा की गयी है तो वो आदमी आवेश में अपने घर से आया और बिना सच्चाई का पता किए महिला टीचर को थप्पड़ मारने शुरू कर दिए , वहाँ दूसरे लोग भी थे पर किसी ने भी उस वहशी इंसान को रोका नहीं । हम नहीं जानते महिला टीचर ने कोई ईश निंदा की थी या नहीं पर क्या कोई भी मजहब ये सिखाता है कि महिलाओं से ऐसा व्यवहार किया जाए? जिसने इस विडीओ को ट्वीटर पर शेयर किया है उन्होंने देश का नाम भी बताया जहाँ ये घटित हुआ ।
screen-shot-2016-12-06-at-3-19-16-pm
मान लेते हैं अगर उस महिला टीचर की जगह एक मुस्लिम टीचर होती और उसके ऊपर ईश निंदा का आरोप लगता और कोई ईसाई या हिंदू आदमी आकर उसको क्लास में थप्पड़ लगा देता तो दुनिया भर का बिकाऊ मीडिया और मुस्लिम लोग कितना कोहराम मचा रहे होते ? ज़रा सोचिए ? क्या केवल मुस्लिमों का ही मज हब है बाक़ी लोगों का नहीं ?
देखें ये शर्मनाक विडीओ





Muslim man slaps a Christian female teacher at school when his girl says there's blasphemy in classroom. Other men just watch.

बड़ा खुलासा : ऐसे होगा जयललिता की प्रॉपर्टी का बंटवारा !!

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री और लोकप्रिय नेता जयललिता के निधन हो गया है इसके बाद अब “ओ पनीरसेल्वम” को मुख्यमंत्री बनाया गया है और अब उनकी प्रॉपर्टी का मामला भी सुलझता दिखने लगा  है . फिलहाल जो जानकारी प्राप्त हुई है, उसके अनुसार उनकी प्रॉपर्टी दो प्रमुख लोगों में बनती जाएगी . बता दें कि अभी उनकी पूरी प्रॉपर्टी के बंटवारे का ब्योरा नहीं मिल पाया है, लेकिन कुछ प्रॉपर्टी के बारे में जानकारी सामने आ गई है .

कुछ इस प्रकार होगा बंटवारा :-
1- कोडानाडु और सीरवायी की प्रॉपर्टी उनकी मित्र शशिकला को मिलेगी .
2- पोएस गार्डेन की प्रॉपर्टी इलावरासी के बेटे विवेक को मिलेगी .

बता दें कि जयललिता की यह प्रॉपर्टी अरबो की है . जून 2015 में विधानसभा मिड टर्म इलेक्शन से पहले जयललिता ने चुनाव आयोग को जो हलफनामा दिया था . उसके अनुसार उनकी कुल संपत्ति 117.13 करोड़ रुपये है . इस हिसाब से कुल चल संपत्ति 45.04 करोड़ रुपये है, जबकि अचल संपत्ति 72.09 करोड़ रुपये की है .आपको जानकर हैरानी होगी कि चेन्नई के पोएस गार्डन स्थित निवास वेदा निलायम की मौजूदा कीमत 43.96 करोड़ रुपये है .
जयललिता ने अपने करीबी शशिकला, जे. एलवरासी और वी. सुधागरन के साथ मिलकर चेन्नई के कई पॉश इलाकों में फार्म हाउस और समुद्र तट के किनारे संपत्ति बनाई हुई है . इन पार्टनर्स के साथ मिलकर जयललिता ने रियल एस्टेट में भी काफी बड़े निवेश किए हैं. जिसमें 800 एकड़ में फैले कोडानाडु चाय का बागान भी शामिल हैं . इस बागान की कीमत कम से कम 400 करोड़ रुपये आंकी गई है.

क्या आप जानते हो युवा दिन में कितनी बार सोचते है यौन संबंधों के बारे में ?




वैसे तो अब तक यह कहा जाता रहा है कि पुरुष अक्सर दिन में यौन संबंधों को लेकर सोचते रहते हैं वहीं महिलाओं को इस मामले में थोड़ी पिछड़ी रहतीं हैं। लेकिन एक हालिया स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है कि महिलाएं भी पुरुषों से इस मामले में पीछे नहीं हैं।


एक अंग्रेजी वेबसाइट के अनुसार पिछले दिनों एक स्टडी हुई है जिसमें 13-25 वर्ष की उम्र के कॉलेज में पढ़ने वाले 238 युवक और युवतियों को शामिल किया गया। स्टडी के दौरान उनसे सवाल पूछा गया कि वो दिन में कितनी बार जरूरी चीजों के बारे में सोचते हैं जिनमें खाना, नींद और यौन संबंध शामिल हैं।

इन स्टूडेंट्स से कहा गया कि दिन में जब भी वो यौन संबंध के बारे में सोचें उसे एक कागज पर लिख लें। स्टडी में जो नतीजे आए वो चौंकाने वाले थे। रिजल्ट्स के अनुसार जहां पुरुष दिन में औसत 34 बार इस बारे में सोचते नजर आए वहीं युवतियों का आंकड़ा 18 था जो कि कम चौकाने वाला नहीं था।

मतलब जहां युवक दिन में 38 बार यौन संबंधों के बारे में सोचते हैं वहीं युवतियां दिन में 18 बार यौन संबंध बनाने के बारे में सोचती हैं। रिसर्चर्स के अनुसार आंकड़ों के अनुसार पुरुष हर आधे घंटे में उत्तेजक बाते सोचते हैं वहीं महिलाएं एक घंटे में यही बात सोचती हैं। इसका मतलब है की दोनों की सोच में ज्यादा अंतर नहीं होता।

इन 10 आसान तरीकों सेघर बैठे कमाइए लाखों रुपये..

पुरानी कहावत है “पैसा खुदा नहीं है लेकिन खुदा से कम भी नहीं है”. मौजूदा दौर में तकनीक की दुनिया जिस तेजी से विकसित हो रही है उसी तकनीक ने आय के स्रोत भी खोल दिये हैं। क्या आपको पता है कि घर बैठे हुए इंटरनेट के जरिए आप ढेरों पैसे भी कमा सकते हैं। ऐसे आसान तरीकों से आपको रूबरू कराते हैं-
खुद की किताब लिखकर – अगर आपको लिखने में दिलचस्पी है तो कई वेबसाइटें हैं जो आपको पैसे देकर आपसे कोई बुक लिखवा सकती हैं। इसके लिए वे आपको रॉयल्टी भी देंगी। इस क्षेत्र में अमेजन कंपनी सबसे आगे है। अमेजन किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग नामक फीचर पर आप कोई भी ऑनलाइन बुक लिखकर उसे किंडल बुकस्टोर पर अपलोड करें। जब इस पुस्तक की बिक्री होगी तो आपको 70 प्रतिशत तक की रॉयल्टी दी जाएगी।

फोटो बेचकर कमायें पैसे – 

अगर आपको फोटोग्राफी का शौक है तो इसके जरिए भी आप अच्छी कमाई कर सकते हैं। मौजूदा समय में कई वेबसाइटें हैं जिसपर आप फोटो स्टॉक कर सकते हैं। इनमें से कुछ हैं- www.shutterstock.com, www.shutterpoint.com और www.istockphoto.com। इन साइट्स पर फोटो सबमिट करने के बाद साइट अपनी पॉलिसी के मुताबिक आपको 15-85 प्रतिशत तक रॉयल्टी देती है।

ऑनलाइन काम करके – 

नेट यूजर्स कुछ साइटों के लिए ऑनलाइन काम करके भी पैसा कमा सकते हैं। www.odesk.com और www.elance.com आदि वेबसाइटें ऑनलाइन कमाई के मामले में दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। इन साइटों में प्रति घंटा या अन्य नियमों के मुताबिक आपको भुगतान किया जाता है।

गूगल एडसेंस से करें कमाई – 

गूगल एडसेंस द्वारा दिए जाने वाले विज्ञापनों को अपने ब्लॉग पर लगाने से भी आप कमाई कर सकते हैं। इसमें हर क्लिक के लिए आपको भुगतान मिलेगा। गूगल एडसेंस आपको चित्र, वीडियो, टेक्स्ट, बैनर इत्यादि विज्ञापन देता है। उनमें से आप अपने मर्जी से विज्ञापन चुनकर अपने ब्लॉग पर लगा सकते हैं।

यू-ट्यूब पर वीडियो अपलोडिंग से – 

यू ट्यूब भी आपके ओरिजनल वीडियोज पर आपको पैसा देता है। इसके लिए सबसे पहले www.youtube.com/creators/partner.html पर जाकर यू ट्यूब पार्टनर प्रोग्राम के लिए एप्लाई करना होता है। रजिस्ट्रेशन के बाद आप अपने वीडियो को अपलोड कर सकते हैं।

बायसेल एड – 

इस साइट से सीधे विज्ञापनों को बेचकर भी आप पैसा कमा सकते हैं। आपके ब्लॉग के जरिए दिए जाने वाले विज्ञापनों के बदले यह अपनी कमीशन ले लेते हैं।


ई-ट्यूटर से करें कमाई – 

मौजूदा समय में कई वेबसाइट ऐसी हैं जो अनेक विषयों पर लोगों को पेड ई-ट्यूटर की सुविधा देती हैं। इनमें www.tutorvista.com और www.2tion.net प्रमुख साइट्स हैं। यूजर्स को इस पर रजिस्ट्रेशन करना होता है। इसके बाद, कुछ ही घंटे पढ़ाकर वह अच्छी-खासी कमाई कर सकते हैं।

रिव्यू लिखकर – 
आप अपनी लेखन क्षमता की बदौलत सॉफ्टवेयर आदि विषयों पर रिव्यू लिखकर भी पैसे कमा सकते हैं। साथ ही इंफोलिंक भी एक ऐसा ही माध्यम है।

एप्स का बिजनेस – 

स्मार्टफोन के बढ़ते क्रेज के कारण आज एप बहुत उपयोगी साबित हो रहे हैं। अगर आपके पास भी एप बनाने के अच्छे आइडियाज़ हैं तो ऑनलाइन प्रशिक्षण के बाद खुद या किसी डेवलेपर से आप अपना एप बनवा सकते हैं। एप बनने के बाद 30-100 डॉलर वार्षिक फीस देकर आप गूगल, एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट आदि के स्टोर पर उसका रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
पुराने सामान बेचकर करें कमाई – 

आप अपने घर के पुराने या बेकार पड़े सामानों को ऑनलाइन बेचकर भी पैसा कमा सकते हैं। अनेक वेबसाइट पर आप इसके लिए निःशुल्क विज्ञापन भी दे सकते हैं।

कही 100 तो कही 150 रूपये ! कौड़ियों के दाम में हर रोज़ बिकता है जिस्म... सरकार को कोई आपत्ति नही

ढाका। वैसे तो दुनिया के हर शहर में जिस्मफरोशी का काम होता है, लेकिन कुछ देश ऐसे हैं जहां यह काम खुलेआम होता है। बांग्लादेश उन पांच मुस्लिम देशों में से है जहां वेश्यावृत्ति को कानूनी अधिकार मिला हुआ है। यहां के सबसे पुराने और दूसरे सबसे बड़े जिले तंगेल के कंडापारा ब्रोथल में पिछले 200 सालों से वेश्यावृत्ति चलती आ रही है।
आज ये इलाका कोठों का जिला कहा जाता है। जिसके चारों ओर एक दीवार की बाऊंड्री कर दी गई है। इसी चार दीवारी के अंदर गलियां, चाय और राशन की दुकानें मौजूद हैं। बाहर के समाज से अलग इस कोठों के जिले में अपना कानून चलता है। कोठों में युवा लड़कियों की मांग बेहद ज्यादा है। वे वहां बॉडेंड गर्ल के नाम से जानी जाती हैं। इन लड़कियों की उम्र 12 से 14 साल के बीच ही होती है। पांच साल बाद उन्हें कोठे को छोड़कर बाहर कहीं भी जाने की आजादी मिल पाती है।
जिन महिलाओं के पास बाहर अपना समाज होता है जिसमें वो जाकर नई जिंदगी शुरू कर सकें वो तो चली जाती हैं लेकिन जिनके पास कोई चारा नहीं होता वो यहीं रहकर हर घंटे अपना शरीर नुंचवाती हैं। कुछ महिलाएं यहीं रहकर बाहर अपने बच्चों को पढ़ाती हैं।




साल 2014 में ये कोठे यहां से हटा दी गए थे, लेकिन लोकल एनजीओ की मदद से दोबारा यहां वेश्यावृत्ति को इजाजत मिल गई। यहां जन्मीं कई महिलाएं यहीं वेश्या बनकर रह रही हैं।

Related Post

loading...