Watch Popular Video

loading...

सम्पूर्ण भगवान सूर्य देव चालीसा...

Image result for सूर्यदेव
#  भविष्यपुराण में सूर्यदेव को ही परब्रह्म यानी जगत की सृष्टि, पालन और संहार शक्तियों का स्वामी माना गया है !
# सूर्य देव का वर्णन वेदों और पुराणों में भी किया गया है। भगवान सूर्यदेव को ही जगत की उत्पत्ति तथा अंत का कारण माना जाता है !
# हिन्दू धर्मानुसार भगवान सूर्य देव एक मात्र ऐसे देव हैं जो साक्षात दिखाई पड़ते हैं। इनकी विधि-विधान द्वारा पूजा करने से सफलता, मानसिक शांति और शक्ति का संचार होता है !
Image result for सूर्यदेव
!! दोहा !!

" कनक बदन कुण्डल मकर, मुक्ता माला अङ्ग !
पद्मासन स्थित ध्याइए, शंख चक्र के सङ्ग !!

!! चौपाई !!

" जय सविता जय जयति दिवाकर!। सहस्त्रांशु! सप्ताश्व तिमिरहर !
भानु! पतंग! मरीची! भास्कर!। सविता हंस! सुनूर विभाकर !!

" विवस्वान! आदित्य! विकर्तन। मार्तण्ड हरिरूप विरोचन !

अम्बरमणि! खग! रवि कहलाते। वेद हिरण्यगर्भ कह गाते !!

" सहस्त्रांशु प्रद्योतन, कहिकहि। मुनिगन होत प्रसन्न मोदलहि !

अरुण सदृश सारथी मनोहर। हांकत हय साता चढ़ि रथ पर !!

" मंडल की महिमा अति न्यारी। तेज रूप केरी बलिहारी !

उच्चैःश्रवा सदृश हय जोते। देखि पुरन्दर लज्जित होते !!

" मित्र मरीचि भानु अरुण भास्कर। सविता सूर्य अर्क खग कलिकर !

पूषा रवि आदित्य नाम लै। हिरण्यगर्भाय नमः कहिकै !!

Image result for सूर्यदेव
" द्वादस नाम प्रेम सों गावैं। मस्तक बारह बार नवावैं !

चार पदारथ जन सो पावै। दुःख दारिद्र अघ पुंज नसावै !!

" नमस्कार को चमत्कार यह। विधि हरिहर को कृपासार यह !

सेवै भानु तुमहिं मन लाई। अष्टसिद्धि नवनिधि तेहिं पाई !!

" बारह नाम उच्चारन करते। सहस जनम के पातक टरते !

उपाख्यान जो करते तवजन। रिपु सों जमलहते सोतेहि छन !!

" धन सुत जुत परिवार बढ़तु है। प्रबल मोह को फंद कटतु है !

अर्क शीश को रक्षा करते। रवि ललाट पर नित्य बिहरते !!

" सूर्य नेत्र पर नित्य विराजत। कर्ण देस पर दिनकर छाजत !

भानु नासिका वासकरहुनित। भास्कर करत सदा मुखको हित !!

" ओंठ रहैं पर्जन्य हमारे। रसना बीच तीक्ष्ण बस प्यारे !

कंठ सुवर्ण रेत की शोभा। तिग्म तेजसः कांधे लोभा !!

" पूषां बाहू मित्र पीठहिं पर। त्वष्टा वरुण रहत सुउष्णकर !

युगल हाथ पर रक्षा कारन। भानुमान उरसर्म सुउदरचन !!

" बसत नाभि आदित्य मनोहर। कटिमंह, रहत मन मुदभर !

जंघा गोपति सविता बासा। गुप्त दिवाकर करत हुलासा !!

" विवस्वान पद की रखवारी। बाहर बसते नित तम हारी !

सहस्त्रांशु सर्वांग सम्हारै। रक्षा कवच विचित्र विचारे !!

Image result for सूर्यदेव
" अस जोजन अपने मन माहीं। भय जगबीच करहुं तेहि नाहीं !

दद्रु कुष्ठ तेहिं कबहु न व्यापै। जोजन याको मन मंह जापै !!

" अंधकार जग का जो हरता। नव प्रकाश से आनन्द भरता !

ग्रह गन ग्रसि न मिटावत जाही। कोटि बार मैं प्रनवौं ताही !!

" मंद सदृश सुत जग में जाके। धर्मराज सम अद्भुत बांके !

धन्य-धन्य तुम दिनमनि देवा। किया करत सुरमुनि नर सेवा !!

" भक्ति भावयुत पूर्ण नियम सों। दूर हटतसो भवके भ्रम सों !

परम धन्य सों नर तनधारी। हैं प्रसन्न जेहि पर तम हारी !!

" अरुण माघ महं सूर्य फाल्गुन। मधु वेदांग नाम रवि उदयन !

भानु उदय बैसाख गिनावै। ज्येष्ठ इन्द्र आषाढ़ रवि गावै !!

" यम भादों आश्विन हिमरेता। कातिक होत दिवाकर नेता !

अगहन भिन्न विष्णु हैं पूसहिं। पुरुष नाम रविहैं मलमासहिं !!

!! दोहा !!

" भानु चालीसा प्रेम युत, गावहिं जे नर नित्य !
सुख सम्पत्ति लहि बिबिध, होंहिं सदा कृतकृत्य !!

जानिए : आखिर क्यों ? सूर्यदेव ने कर दिया अपने ही पुत्र शनिदेव का त्याग...

जानिए : आखिर क्यों ? सूर्यदेव ने कर दिया अपने ही पुत्र शनिदेव का त्याग...
Related image
# सूर्य की दूसरी पत्नी के गर्भ से शनि देव का जन्म हुआ था। जब शनि देव छाया के गर्भ में थे तब छाया भगवान शंकर की भक्ति में इतनी ध्यान मग्न थी की उसे अपने खाने-पीने तक सुध नहीं रही ! 
यह भी पढ़े ➩ असल ज़िन्दगी का पिशाची जोड़ा Vampire Couple | पीते है एक दुसरे का खून
➩ क्या यह किताब Alien ने लिखी है | आखिर क्यों समझ नही आती इसकी भाषा | Voynich 
➩ मौत का गाना | जिसे सुनकर कर ली लोगो ने आत्महत्या | Gloomy Sunday

# इसका प्रभाव उसके पुत्र पर पड़ा और शनिदेव का वर्ण श्याम हो गया, शनि के श्यामवर्ण को देखकर सूर्य ने अपनी पत्नी छाया पर आरोप लगाया की शनि मेरा पुत्र नहीं हो सकता है !
Image result for सूर्यदेव और शनिदेव

# सूर्यदेव ने शनि का त्याग कर दिया। बड़े होने पर जब ये बात शनिदेव को पता चली तो वह अपने पिता से शत्रुता रखने लगे !

# शनि देव ने अपनी साधना तपस्या द्वारा शिवजी को प्रसन्न कर अपने पिता सूर्य की भांति शक्ति प्राप्त की और शिवजी ने शनि देव को वरदान मांगने को कहा, तब शनि देव ने कहा कि प्रभु युगों युगों से मेरी माता छाया की पराजय होती रही हैं !

Image result for सूर्यदेव और शनिदेव

# मेरे पिता सूर्य द्वारा मेरी माता को अनेक बार अपमानित व प्रताड़ित किया गया हैं, अतः मेरी माता की इच्छा है कि मैं अपने पिता से इस अपमान का बदला लूं, ऐसा तभी हो सकता है जब मैं उनसे ज्यादा शक्तिशानी बनूं !

# भगवान शंकर ने वरदान देते हुए कहा कि नवग्रहों में तुम्हारा सर्वश्रेष्ठ स्थान होगा। मानव तो क्या देवता भी तुम्हारे नाम से भयभीत होंगे। इस तरह शनिदेव को सभी शक्तियां प्राप्त हुईं !

राशिफल :25 जून :जानिए मीन राशी वालो के लिए कैसा रहेगा रविवार का दिन...


मीन दैनिक राशिफल -

Daily
आज आप बहुत जल्दी में हैं ǀ आपको अपने सब कामों को निपटाने की गति जरा धीमी करनी होगी क्योकि जल्दी मे काम निपटाने के चक्कर में आपसे गलतियाँ हो सकती हैं ǀ इसीलिए धीमे चलें ǀ इस बात का विशेष ध्यान रखें कि आप क्या कह और कर रहें हैं ǀ आपको अपने कार्य को संतोषजनक ढंग से पूरा करने के लिए सभी बारीकियों पर ध्यान देने की जरुरत है ǀ

मीन स्वास्थ्य और कल्याण राशिफल -

Health & Wellness
आपका मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों ही बहुत अच्छी स्थिति में हैं,अगर आप आज किसी खेल प्रतियोगिता में भाग लेंगे तो सफलता और सम्मान दोनों ही मिलने तय हैं Iआज सारा तनाव धुल जाएगा I|आपका मन और शरीर दोनों को ही एक नयी ऊर्जा का अनुभव करेंगे I| इस अवसर का लाभ उठाकर या तो जिम में दो घंटे पसीना बहायें या एक अच्छी सी दौड़ लगाये ताकि आपको तरोताजा महसूस हो I

मीन प्यार और संबंध राशिफल -

Love & Relationship
इस समय यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप अपने सम्बन्ध को निष्पक्ष होकर जांचें | क्या आप इसे अगले स्तर पर ले जाने के लिए तैयार हैं ? इस समय आपको पाने पार्टनर की बजाय अपनी भावनाओं पर ध्यान देना चाहिए और उस उलझन को दूर कर लेना चाहिए जो आपको सामान्य रूप से कई बार महसूस होती है | अब आपको फैसला कर लेना चाहिए कि आप अपने सम्बन्ध को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं |

मीन कैरियर और धन राशिफल -

Career & Money
आज का दिन काफी मुश्किलो से भरा रह सकता है और आपको सख्त नियमो का पालन करते हुए काफी कठिनं परिश्रम करना पड़ेगा , लेकिन यह आपके भविष्य की योजनाओं के लिए एक ठोस आधार बनाने में मदद करेगा । आज का परिश्रम आपको भविष्य में फल देगा । हो सकता है की आप अपने सहयोगी की जिम्मेदारी भी ले ।

राशिफल :जानिए - आज का दिन किसके लिए रहेगा लकी, कौन बरतें सावधानी...


मेष (Aries) - आज के दिन समाधानकारी व्यवहार अपनाने से किसी के साथ संघर्ष नहीं होगा, जो कि आप के और सामनेवाले व्यक्ति दोनों के हित में रहेगा ऐसा गणेशजी कहते हैं। लेखकों और कलाकारों के लिए समय अनुकूल है। भाईयों के बीच में प्रेम बढे़गा। फिर भी मध्याहन के बाद आप की चिंताओं में वृद्धि होगी और उत्साह कम होगा। संवेदनशीलता में वृद्धि होगी। मित्रों के साथ प्रवास का आयोजन कर पाएंगे और साथ में आर्थिक विषय में भी कार्य करेंगे। परिवारजनों के साथ समय आनंदपूर्वक बीतेगा। 

यह भी पढ़े ➩ शनिवार को भूलकर भी ना करे ये काम - नहीं तो बरसेगा शनिदेव का प्रकोप...
➩ अनोखा मंदिर : यहाँ चोरी करने से होती है मनोकामना पूर्ण...
➩ ना करे माँ लक्ष्मी के इन स्वरूपो की पूजा - हो सकते आप कंगाल...

वृषभ (Taurus) - महत्वपूर्ण कार्यों को आज पूर्ण करने की गणेशजी सलाह देते हैं। धन लाभ की संभावना है। आप आज शारीरिक और मानसिक रूप से उत्साही रहेंगे। परिवारजनों के साथ समय आनंदपूर्वक बीतेगा। परंतु मध्याहन के बाद आप के व्यावहारिक निर्णयों में दुविधा बढ़ेगी। हाथ में आया अवसर आप गंवा भी सकते हैं। हठीले व्यवहार के कारण अन्य लोगों के साथ घर्षण होने की संभावना है। संभव हो तो नया कार्य मध्याहन से पूर्व ही संपन्न कर दीजिएगा। भाई-बंधुओ के साथ संबंध में प्रेम और सहकार की भावना रहेगी।

मिथुन (Gemini) - आज गणेशजी आप को संभलकर चलने की सलाह देते हैं। घर में परिवारजनों का आप के प्रति विरोध रहेगा। कार्यों के प्रारंभ करने के बाद वे अपूर्ण रहेंगे। शारीरिक अस्वस्थता और मानसिक व्यग्रता का अनुभव होगा। परंतु मध्याहन के बाद आप में कार्य करने का उत्साह बढेगा। पारिवारिक वातावरण में अनुकूलता रहेगी। आत्मविश्वास में आज वृद्धि होगी। मनोरंजन के पीछे धन का व्यय होगा।


कर्क (Cancer) - आज व्यापार में लाभ के योग हैं ऐसा गणेशजी कहते हैं। किसी रमणीय स्थल पर पर्यटन का आयोजन होगा। परंतु मध्याहन के बाद आप का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य बिगडे़गा। आंख के रोगों से कष्ट बढ़ सकता है। परिवारजनों के लिए उन्हीं के साथ खर्च करने का प्रसंग उपस्थित होगा। अकस्मात न हो इससे संभलिएगा।

यह भी पढ़े 
➩ जानिए :आखिर क्यों ? पूजा में रखा जाता है कलश...
➩ दो मुखी रुद्राक्ष पहनने वाले की होती है हर मुराद पूरी - जानिए और क्या हैं इसका महत्व...
➩ भजन : मेरी पहचान मेरा खाटूवाला श्याम है...

सिंह (Leo) - नए कार्य का आयोजन करने के लिए आज का दिन शुभ है ऐसा गणेशजी कहते हैं। अपूर्ण कार्य पूर्ण होंगे। मित्रों, स्नेहीजनों से उपहार मिलेगा। व्यापार के क्षेत्र में नए संपर्कों से भविष्य में लाभ होने की संभावना में वृद्धि होगी। परिवारजनों और मित्रों के साथ आनंददायी क्षण बिताएंगे। आय में वृद्धि होने के योग हैं। छोटा सा परंतु आनंददायी प्रवास होगा।

कन्या (Virgo) - आप के व्यवसाय से अन्य व्यापारी भी धन का लाभ ले पाएंगे ऐसा गणेशजी कहते हैं। लंबे प्रवास का योग बलवान है। स्वास्थ्य संभालकर चलिएगा। दूर स्थित स्नेहीजनों के समाचार मिलेंगे। मध्याहन के बाद कार्यालय में ऊपरी अधिकारी का सहकार मिलेगा। गृहस्थों को सुख और संतोष की भावना आज दिनभर मन में रहेगी। व्यावसायिकों को पदोन्नति से लाभ होगा। सम्मान होने से आज मन प्रसन्न रहेगा।

तुला (Libra) - शिथिलता एवं अधिक कार्यभार के कारण मानसिक व्याकुलता का अनुभव होगा। निर्धारित समय में आप अपना कार्य पूर्ण कर पाएंगे। अपने स्वास्थ का ध्यान रखते हुए स्वास्थ्य के लिए हानिकर भोजन न लें। प्रवास में विघ्न आने की संभावना है। परंतु मध्याहन के बाद दूर स्थित स्नेही सम्बंधियों के समाचार मिलने से आप का आनंद दूना हो जाएगा। नए कार्य का प्रारंभ करने के लिए भी आज के दिन उत्साह रहेगा। विदेश जाने के अनुकूल परिस्थिति का निर्माण होगा। व्यापार में भी लाभ होने की संभावना है।


वृश्चिक (Scorpio) - प्रातःकाल के समय आप की शारीरिक स्फूर्ति और मानसिक प्रफुल्लितता बनी रहेगी। परिवारजनों और मित्रों के साथ खान-पान का स्वाद ले पाएंगे। मध्याहन के बाद आप को शारीरिक शिथिलता और मानसिक व्यग्रता का अनुभव होगा। मध्याहन के बाद खान-पान में ध्यान रखिएगा। कार्य अपूर्ण रह जाने की पूरी संभावना है। प्रवास में विघ्न आएंगे। आध्यात्मिकता और ईश्वरभक्ति ही आप को सहकार देगी।


यह भी पढ़े ➩ अनोखा मन्दिर : यहाँ दर्शन मात्र से मिलती है - भूत-प्रेत बाधाओं से मुक्ति...
➩ सम्पूर्ण श्री श्याम चालीसा...
 श्री खाटूश्यामजी कथा ...

धनु (Sagittarius) - आप का आज का दिन आनंदपूर्ण और उत्साहपूर्ण मानसिकता से बीतेगा ऐसा गणेशजी कहते हैं। आप के कार्य योजनानुसार संपन्न होंगे। अपूर्ण कार्य पूर्ण होंगे। धन सम्बंधित लाभ होने की संभावना है। गृहस्थजीवन में मधुरता बनी रहेगी। आकस्मिक धनलाभ के योग हैं। छोटे से प्रवास का आयोजन कर पाएंगे। व्यापारीजनों के व्यापार में वृद्धि होगी। विदेश स्थित स्वजनों के शुभ समाचार मिलेंगे।

मकर (Capricorn) - परिश्रम की अपेक्षा कम फल मिलेगा ऐसा गणेशजी कहते हैं। फिर भी कार्य के प्रति आप की निष्ठा में कमी नहीं आ पाएगी। अन्य जनों के साथ सम्बंध सुरुचीपूर्ण रहेंगे। स्वास्थ्य आज अच्छा रहेगा। और उसे संभालने के लिए बाहरी खान-पान का सहारा न लिजिएगा। मध्याहन के बाद अधूरे कार्यों की पूर्णता होगी। अस्वस्थ व्यक्तियों को आरोग्य में सुधार होता दिखेगा। आर्थिक लाभ होने की पूरी संभावना है। मायके से अच्छे समाचार मिलेंगे। सहकर्मचारीगण आप को सहयोग देंगे।

कुंभ (Aquarius) - विद्यार्थी, कलाकार और खिलाड़ियों के लिए आज का दिन अच्छा है ऐसा गणेशजी कहते हैं। पिता तथा सरकार की ओर से लाभ होगा। मनोबल भी आप का दृढ़ रहेगा। इसलिए कार्यसफलता में कोई बाधा नहीं आएगी। फिर भी पाचनतंत्र बिगडने के कारण बाहरी खान-पान संभव हो तो टालिएगा। पठन-लेखन के क्षेत्र में आप की अभिरुची बढेगी। धन संबंधित व्यवस्थित आयोजन कर पाएंगे।

मीन (Pisces) - आज आप काल्पनिक दुनिया में ही दिन व्यतीत करेंगे। सृजनात्मक शक्ति को भी उचित दिशा मिल जाएगी। परिवारजनों और मित्रों के साथ खान-पान का आयोजन होगा। दैनिक कार्य भी आत्मविश्वास और एकाग्र मन से पूर्ण कर पाएँगे। विद्यार्थियों के लिए विद्याभ्यास हेतु समय अच्छा है। संतानों के लिए समय सानुकूल है ऐसा गणेशजी कहते हैं। पिता से लाभ होगा।


यह भी पढ़े ➩ अगर आ रही हैं आपके विवाह में समस्या - तो करें बृहस्पति देव की पूजा...
➩ रोज करे भगवान विष्णु के इस मंत्र का जाप - होगी आपकी मनोकामना पूर्ण...
➩ भगवान शिवजी ने क्यों काटा सृष्टि के रचयिता ब्रह्माजी का एक सिर -जानिए वजह ?

शनिवार को भूलकर भी ना करे ये काम - नहीं तो बरसेगा शनिदेव का प्रकोप...

Image result for शनिदेव
@ रोजमर्रा की भागदौड़ के बाद जब शनिवार आता है तो रिलैक्स का अनुभव होता है। अधिकतर लोग इसे हफ्ते का सबसे अच्‍छा दिन मानते हैं और खरीदारी करने के लिए भी इसी दिन को चुनते हैं। शनिवार शनिदेव का दिन होता है, कोई भी ऐसा सामान इस दिन नहीं खरीदना चाहिए, जिससे शनिदेव का प्रकोप बरसने लगे।
यह भी पढ़े ➩ जानिए : क्यों किया जाता है किसी मंत्र का 108 बार जाप...
➩ अगर आपके घर में तुलसी हो तो जरूर रखे इन खास बातो का ध्यान...
➩ जानिए :साईं बाबा की मूर्ति का यह राज जो बहुत कम लोग जानते हैं...
घर के लिए न खरीदें ये सामान
@ लोहा
@ तेल
@ नमक
@ कैंची
@ काले तिल
@ काले रंग के जूते
@ विद्या से संबंधित सामान जैसे कागज, पेन और इंक पॉट आदि
@ ईंधन
@ झाड़ू
@ अनाज पीसने की चक्की
@ चमड़े का सामान
@ कोयला
@ काला कपड़ा
@ काला कंबल
Image result for शनिदेव
गिफ्ट करने के लिए न खरीदें ये सामान -
@  नारंगी रंग की मिठाइयां
@  सफेद रंग के कपड़े
@  तांबे के बर्तन
@  लाल स्याही वाला पेन
@  चमेली का इत्र
@  लाल रंग के कपड़े
@  चांदी के आभूषण
@  कैंची
@  मोती
@  चॉकलेट
यह भी पढ़े ➩ जानिए : भगवान श्री गणेश का वाहन एक चूहा क्यों है ?
➩ जानिए : कैसे और किस के साथ हुआ था भगवान श्री गणेश का विवाह...
➩ मंगलवार को करें ये आसान उपाय - हनुमान जी चमका देंगे आपकी किस्मत...